Chand Shayari

100 Best Chand Shayari चाँद शायरी Chand Shayari Gulzar

100 Best Chand Shayari चाँद शायरी, Chand Shayari Gulzar, Shayari on Moon, Chand Par Shayari, Chand Quotes in Hindi, Chand Ki Shayari के इस Best Shayari के Collection में आपका स्वागत है दोस्तों …

Friends… आप हमारे Telegram Channel से अवश्य जुड़ें यहाँ हर रोज नये सुविचार और बहुत सारे Shayari और Status Videos आपके लिए उपलब्ध कराया जाता है।

यहाँ Click करें → Telegram Channel

Telegram

 

कितना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा…

ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा…

लोग कहते है चाँद का टुकड़ा तुम्हें…

पर मैं कहता हूँ चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा…

 

Chand Shayari

 

जो भी तेरी दुनिया है वो खुश नसीब होगा…

चाँद भी शर्माये जिसकी सुन्दरता से भला…

उससे अच्छा और क्या होगा…

 

आप आसमान में देखते रह गए…

हमने चाँद को खिड़कियों पर देखा है…

 

Best Chand Shayari

 

कहाँ से लाऊँ वो लफ्ज जो तेरी तारीफ के काबिल हो…

कहाँ से लाऊँ वो चाँद जिसमें तेरी खूबसूरती शामिल हो…

ऐ मेरे बेवफा सनम एक बार बता दे मुझको…

कहाँ से लाऊँ वो किस्मत जिसमें तू बस मुझे हासिल हो…

 

Chand Shayari

 

हर कोई तुम सा खास नहीं होता…

जो खास होता है वोह कभी पास नहीं होता…

यकीन ना आये तो चाँद को ही देखो…

जिसके दूर होते हुए भी दूरी का एहसास नहीं होता…

 

रात होगी तो चाँद दुहाई देगा…

ख्वाबों में आपको वह चेहरा दिखाई देगा…

ये मोहब्बत है जरा सोचकर करना…

क्योंकि एक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा…

 

ना चाँद चाहिए ना फलक चाहिए…

चाहे ख्वाबों में ही क्यों ना दिखो…

मुझे बस तुम्हारी एक झलक चाहिए…

 

Chand Shayari

 

मैं भी तुम भी और रात भी यहीं है…

मगर दोनों की सोच चादर ओढ़ कर सो गई…

अल्फाज कहीं टहलने निकल गए…

हालात ने आवाज को डरा रखा है…

रात की ठण्ड साँसों के साथ जिस्म में उतर रही है…

इसका जवाब कौन देगा…

रात की खामोशी या चाँद की ये रौशनी…

 

Chand Shayari

 

अब समझ में आया लोग चाँद को खूबसूरत क्यों कहते हैं…

शायद मेरी तरह वो भी उसमें तेरी ही झलक को देखते हैं…

 

Chand Shayari

 

मेरा और चाँद का नसीब एक जैसा है…

वो तारों में तन्हा मैं हजारों में तन्हा…

 

Chand Shayari Gulzar

 

दो दिलो की मोहब्बत से जलते हैं लोग…

तरह-तरह की बातें तो करते हैं लोग…

जब चाँद और सूरज का होता है खुलकर मिलन…

तो उसे भी सूर्य ग्रहण तक कहते हैं लोग…

 

ये दिल न जाने क्या कर बैठा…

मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा…

इस जमीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता और…

ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा…

 

Chand Shayari

 

कोई आसमान को उतारो जमीन पर…

मेरी तमन्ना आज चाँद पर सोने की हो रही है…

 

तेरा यूं सीने पर सर रखना मेरे…

चाँद छत पर जैसे आया हो मेरी…

 

चाँद शायरी

 

ख्वाब आँखों में कुछ इस तरह पनपते हैं…

चाँद रूठ जाता है जब रात घर से वो निकलते हैं…

कागजों पर रक्त ऐ दिल के अश्क जब बिखरते हैं…

उनके जिक्र से बनती है शायरी लिखे लफ्ज भी चमकते हैं…

 

Chand Shayari

 

गुमशुदा से रहते हैं तुम बिन हम इस तरह…

जैसे की चाँद खो गया हो बादलों के पीछे…

 

यकीनन लकीरें तो हमारी बहुत खास है…

तभी तो आप जैसा चाँद हमारे पास है…

 

Shayari on Moon

 

रात का चाँद तुम्हें सलाम करे…

परियों की आवाज तुम्हें आदाब करे…

सारी दुनिया को खुश रखने वाला वो रब…

हर पल तुम्हारी खुशियों का ख्याल करे…

 

Chand Shayari

 

रात भर तारीफ करता रहा आपकी चाँद से…

चाँद इतना जला की सुबह तक सूरज हो गया…

 

ऐ मेरे दोस्त ना चाँद की चाहत है ना तारों की फरमाइश है…

हर जन्म में आपका साथ मिले बस यही मेरी ख्वाहिश है…

 

Chand Par Shayari

 

इश्क के चाँद को अपनी पनाह में रहने दो…

लबों को ना खोलो आँखों को कुछ कहने दो…

 

Chand Shayari

 

हर कोई तुमसा खास नहीं होता…
जो खास होता है वोह कभी पास नहीं होता…
यकीन ना आये तो चाँद को ही देखो…
जिसके दूर होते हुए भी दूरी का एहसास नहीं होता…

 

किसकी क्या मजाल थी जो कोई हमको खरीद सकता…
हम तो खुद ही बिक गए इस चाँद से खरीदार को देखकर…

 

Chand Shayari

 

तेरी आँखों में हमे जाने क्या नजर आया…
तेरी यादों का दिल पर सुरुर है छाया…
अब हमने चाँद को देखना छोड़ दिया और…
तेरी तस्वीर को हमने दिल में छुपा लिया…

 

उसने खिड़की से चाँद देखा था…
यारों मैंने खिड़की में चाँद देखा था…

 

Chand Shayari

 

सितारे भी जाग रहें हो रात भी सोई ना हो…
ऐ चाँद मुझे वहाँ ले चल जहाँ उसके सिवा कोई ना हो…

 

गुनहगार तो आपकी नजरें हैं मोहतरमा वरना…
कहाँ ये चाँद से चेहरे नकाब मांगते हैं…

 

Chand Shayari

 

सितारे भी जाग रहे हो रात भी सोई ना हो…
ऐ चाँद मुझे वहाँ ले चल जहाँ उसके सिवा कोई ना हो…

 

है चाँद सितारों में चमक तेरे प्यार की…
हर फूल से आती है महक तेरे प्यार की…

 

Chand Shayari

 

ये दिल न जाने क्या कर बैठा…
मुझसे बिना पूछे ही फैसला कर बैठा…
इस जमीन पर टूटा सितारा भी नहीं गिरता और…
ये पागल चाँद से मोहब्बत कर बैठा…

 

इसे भी पढ़ें Anmol Vachan in Hindi

 

तुम आ गये हो तो फिर चाँदनी सी बातें हों…
अब भला जमीं पर चाँद कहाँ रोज रोज उतरता है…

 

Chand Shayari

 

तुम सुबह का चाँद बन जाओ…
मैं सांझ का सूरज हो जाऊँ…
मिलें हम तुम यूँ भी कभी…
तुम मैं हो जाओ मैं तुम हो जाऊँ…

 

Chand Shayari Gulzar

 

खूबसूरत गजल जैसा है तेरा चाँद सा चेहरा…
निगाहें शेर पढ़ती हैं तो लब इर्शाद करते हैं…

 

Chand Shayari

 

घर बना कर मेरे दिल मे वो चली गई है…
ना खुद रहती है और ना किसी और को बसने देती है…

 

Shayari on Moon

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

तस्वीर बनाकर तेरी आसमान पर टांग आया हूँ…
और लोग पूछते हैं आज चाँद इतना बेदाग कैसे है…

 

Chand Shayari

 

वो दूर है पर दूर ही सही हमें है उसकी जुस्तजु…
चाँद का अपना गुरूर है और हमारी अपनी जिद…

 

Best Chand Shayari

 

कभी सीने से लगाकर सुन वो धड़कन…
जो हर पल तेरे साथ जीने की तमन्ना करती है…

 

Chand Shayari

 

चाँद तो अपनी चाँदनी को ही निहारता है…
उसे कहाँ खबर कोई चकोर प्यासा रह जाता है…

 

Chand Shayari

 

मेरे हाथों में एक शक्ल चाँद जैसी है…
तुम्हें ये कैसे बताऊँ कि ये रात कैसी है…

 

Chand Shayari

 

मेरे शहर में खुदाओं की कमी नहीं…
दिक्कत मुझे इन्सान ढूंढने में होती है…
लेकिन लोगों को क्या पता कि…
हमारे पास खुद का एक चाँद है…

 

इसे भी पढ़ें Romantic Shayari in Hindi

 

Chand Par Shayari

 

कोशिश बहुत की राज ऐ मोहब्बत बयां ना हो…
पर मुमकिन कहाँ था कि…
इस चाँद के आगे दिल में आग ना लगे…

 

Chand Shayari

 

तेरे बाद हमने दिल का दरवाजा खोला ही नहीं…
वरना बहुत से चाँद आए इस घर को सजाने के लिए…

 

चाँद शायरी

 

चाँद के हुस्न पर हर शख्स का हक है…
पर मैं उसे कैसे कहूँ कि रात को निकला न करे…

 

Chand Shayari

 

तेरी आँखों में हमें जाने क्या नजर आया…
तेरी यादों का मेरे दिल पर सुरुर है छाया…
अब हमने चाँद को देखना छोड़ दिया…
और तेरी तस्वीर को दिल में छुपा लिया…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

जो बात अपने चाँद की है उसकी बात ही जुदा है…
ये चांदनी इश्क की है कोई उलझे आशिक का नहीं…

 

Chand Shayari

 

तुम पहचान सकते थे जब मेरे प्रेम को तब…
तुमने आँखें उठाकर चाँद को देखना उचित समझा…

 

खबर मिली है जब से ये कि उनको हमसे प्यार है…
नशे में तब से चाँद है और सितारों पे खुमार है…

 

Chand Shayari

 

तुम्हारी मोह्हबत का ही असर है कि…
हम चाँद में भी तुम्हे देखते हैं…

 

ऐ काश मेरी किस्मत में…
ऐसी भी कोई शाम आ जाए…
एक चाँद फलक पर निकला हो और…
एक छत पर आ जाए…

 

Chand Shayari

 

घूँघट में इक चाँद था और सिर्फ तन्हाई थी…
आवाज दिल के धड़कने की भी फिर जोर से आयी थी…

 

प्यार से जो मैंने घूँघट चाँद पर से हटाया था…
प्यार का रंग भी उतरकर उसके चेहरे पर आया था…

 

Chand Shayari

 

नाराज ना होना हमारी बेमतलब की शायरियों से क्योंकि…
इन्ही हरकतों से हम हमेशा आपको याद आएँगे…
शायद आपको पता नहीं इस चाँद के टुकड़े को…
हम कब से देख कर जिन्दगी जीये जा रहे हैं…

 

इसे भी पढ़ें Friendship Shayari in Hindi

 

आसमान में एक दिन मैं तारे गिन रहा था…
हर तारे मैं मुझे तू नजर आ रही थी…
तो मैंने सोचा तारे से क्या तारीफ करूँ तेरी फिर…
मैंने चाँद को देखा तो उसमें भी तुम नजर आने लगी…

 

Chand Shayari

 

रंग और नूर से भरी शाम हो आपकी…
चाँद सितारों से ज्यादा शान हो आपकी…
इस जिन्दगी में बस एक ही आरजू है हमारी…
कि बंदर से ऊँची छलांग हो आपकी…

 

तू चाँद और मैं सितारा होता…
और आसमान में एक आशियाना हमारा होता…
लोग तुम्हें दूर से देखते…
पर नजदीक से देखने का हक बस हमारा होता…

 

Chand Shayari

 

चाँद भी झांकता हैं पर्दों से…
मेरी तन्हाई का चर्चा अब आसमानों में है…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

Chand Shayari Gulzar

 

रात में छिपकर मिलने का मुकदमा हुआ था हम पर…
जीत पक्की थी पर चाँद गवाही दे गया…

 

Chand Shayari

 

छू लेता शायद मैं भी कूद कर चाँद को…
खुदा ने ख्वाहिशें तो दी मगर हाथ छोटे रखे…

 

Shayari on Moon

 

एक चाँद ही तो था गवाह मेरी बेगुनाही का…
मुंशिफ ने पेशी मेरी अमावस के दिन रख दी…

 

Chand Shayari

 

चाँद भी बड़ा नटखट है जो छुपाता हैं तारों को…
और हमारी गहरी नींदों में सजाता है सपनों को…

 

Chand Par Shayari

 

मेरा और उस चाँद का मुकद्दर एक जैसा है…
वो तारों में भी तन्हा है और मैं यारों में…

 

Chand Shayari

 

वो कहता है मुझसे डरने लगा है…
शायद मोहब्बत करने लगा है…
सोचता था चाँद सबसे हसीन है…
पर देखा तुझे तो भरम मेरा टूट गया…
जोखिम उठाकर उससे उसका पता पूछा था…
मुस्कुरा कर वो बोले तेरे दिल में रहते हैं…

 

चाँद का मिजाज भी बिल्कुल तुम्हारे जैसा है…
जब देखने का मन करता है नजर ही नहीं आता है…

 

Chand Shayari

 

चाँद ने की होगी सूरज से महोब्बत…
इसलिए तो चाँद में दाग है…
मुमकिन है चाँद से हुई होगी बेवफाई
इसलिए तो सूरज में आग है…

 

Best Chand Shayari

 

इसे भी पढ़ें Love Quotes in Hindi

 

चाँद निकलेगा तो लोग दुआ मांगेंगे…
हम भी अपने मुकद्दर का लिखा मांगेंगे…
हम तलबगार नहीं दुनिया की दौलत के…
हम रब से सिर्फ आपकी वफा मांगेंगे…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

उतरा था चाँद हमारे आंगन में…
पर सितारों को गँवारा न था…
हम तो सितारों से भी बगावत कर लेते…
पर चाँद ही हमारा ना था…

 

कहाँ से लाऊँ वो लफ्ज जो तेरी तारीफ के काबिल हो…
कहाँ से लाऊँ वो चाँद जिसमें तेरी खूबसूरती शामिल हो…
ऐ मेरे बेवफा सनम एक बार बता दे मुझको…
कहाँ से लाऊँ वो किस्मत जिसमें तू बस मुझे हासिल हो…

 

Chand Shayari

 

मेरा और चाँद का मुक़द्दर एक जैसा है…
वो तारो में अकेला मैं हजारो में अकेला…

 

रात को रात का तोहफा नहीं देते…
दिल को जज्बात का तोहफा नहीं देते…
देने को तो हम आप को चाँद भी दे देंगे…
मगर चाँद को चाँद का तोहफा नहीं देते…

 

दूर देख के चाँद को कोई जल रहा होगा…
किसी का दिल मिलने के लिए मचल रहा होगा…
उफ्फ मेरे पैरों में ये चुभन कैसी है जरुर कोई…
मेरा अपना कोई काँटों पे चल रहा होगा…

 

चाँद निकलेगा तो लोग दुआ मांगेंगे…
हम भी अपने मुकद्दर का लिखा मांगेंगे…
हम तलबगार नहीं दुनिया की दौलत के…
हम रब से सिर्फ आपकी वफा मांगेंगे…

 

वो दरवाजे पर खड़ी थी मैं खिड़की के पास खड़ा था…
दिल की जमीन पर एक चांद को देखा था…
दिल उसके दीदार को तरसा था बात लबों पर रुकी थी…
खामोशी सब बोल रही थी…
एक दिल था जो शोर कर रहा था…
एक आँखें थी जो ख्वाब देख रही थी…
चाहतों का सैलाब था जो बोल रहा था…
हाँ, वो तूम ही हो जिसे मैं ढूंढ रहा था जन्मों से…

 

इसे भी पढ़ें Pyar Wali Shayari

 

हम तो थे ठहरे हुए पानी पर किसी चाँद का अक्स…
जिसे वो अच्छे भी लगे उसने भी पत्थर फेंका…

 

चाँद शायरी

 

अपनी निगाहों से न देख खुद को…
हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा और वो भी तुम्हें देख शरमा जाए…
सब कहते होंगे चाँद का टुकड़ा हो तूम…
मेरी नजरों से अगर देखे कोई तुम्हें चाँद भी तेरा टुकड़ा लगेगा…

 

Friends… आप हमारे Telegram Channel से अवश्य जुड़ें यहाँ हर रोज नये सुविचार और बहुत सारे Shayari और Status Videos आपके लिए उपलब्ध कराया जाता है।

यहाँ Click करें → Telegram Channel

Telegram

 

Chand Shayari चाँद शायरी Chand Shayari Gulzar

के इस Best Collection में से अगर आप Shayari के किसी Photo को Download करना चाहते हैं तो बस आपको उस Photo पर Click करना है और तुरंत HD Photo Download हो जायेगा फिर आप उसे आप अपने दोस्तों के साथ Share कर सकते हैं।

Thank You … Friends

Previous articleTrue Love Shayari
Next articleLove Shayari in Hindi

Read More Shayari

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Shayari