Dard Bhari Shayari

150 Best Dard Bhari Shayari दर्द भरी शायरी Gam Bhari Shayari

150 Best Dard Bhari Shayari दर्द भरी शायरी, प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में, Dard Sad Shayari, Gam Bhari Shayari, गम भरी शायरी, Dard Bhari Shayari Photo, Shayari on Dard के इस Best Shayari के Collection में आपका स्वागत है दोस्तों

Friends… आप हमारे Telegram Channel से अवश्य जुड़ें यहाँ हर रोज नये सुविचार और बहुत सारे Shayari और Status Videos आपके लिए उपलब्ध कराया जाता है।

यहाँ Click करें → Telegram Channel

Telegram

 

आज हम उनको बेवफा बताकर आए हैं…

उनके खतों को पानी में बहाकर आए हैं…

कोई निकाल न ले उन्हें पानी से…

इसलिए पानी में भी आग लगाकर आए हैं…

 

Dard Bhari Shayari

 

लबों पे नाम है जिनका उन्हें कुछ भी खबर नहीं…

गजल में दर्द है जिनका उन्हें कुछ भी खबर नहीं…

 

आईना मेरा मेरे अपनों से बढ़कर निकला…

जब भी मैं रोया कमबख्त मेरे साथ ही रोया…

 

प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में

 

लगी है मुझको गुलाबों की बद्दुआ शायद…

जिनको तोड़ा था मैंने कभी तेरे लिए…

 

Dard Bhari Shayari

 

इस नाजुक दिल से में किसी के लिए…

इतनी मोहब्बत आज भी है यारों कि हर रात जब तक…

आँखें ना भीग जाये तब नींद नहीं आती…

 

आजाद कर देंगे तुम्हें अपनी चाहत की कैद से…

मगर वो शख्स तो लाओ जो हमसे ज्यादा कदर करे तुम्हारी…

 

याद आयेगी हर रोज मगर तुझे आवाज न दूँगी…

लिखूंगी तेरे ही लिए हर गजल मगर तेरा नाम न लूँगी…

 

Dard Bhari Shayari

 

मोहब्बत की बर्बादी का क्या अफसाना था…

दिल के टुकड़े हो गये पर लोगों ने कहा वाह क्या निशाना था…

 

ऐ खुदा इस दुनिया में एक और भी कमाल कर…

या इश्क को आसान कर या खुदकुशी हलाल कर…

 

Gam Bhari Shayari

 

बहुत सोचकर बाजार गई थी अपने कुछ आँसु बेचने…

हर खरीददार बोला अपनों के दिये तोहफे बेचा नहीं करते…

 

Dard Bhari Shayari

 

खुदा ने पूछा… क्या सजा दूँ तेरे प्यार को…

दिल से आवाज आई…

मुझसे मोहब्बत हो जाये मेरे यार को…

 

मैं भी सनम बनाता किसी को तराश कर…

मुझको मेरी मिजाज का कहीं पत्थर नहीं मिला…

 

गम भरी शायरी

 

मोहब्बत करने वालों को वक्त कहाँ जो गम लिखेंगे…

ऐ-दोस्तों कलम इधर लाओ…

इन बेवफाओं के बारे में हम लिखेंगे…

 

Dard Bhari Shayari

 

पगली तू तो एक ही कसम से डर गई…

हमें तो तेरी कसम दे कर… हर किसी ने लूटा…

 

इश्क लिखना चाहा तो कलम भी टूट गई…

ये कहकर अगर लिखने से इश्क मिलता तो…

आज इश्क से जुदा होकर कोई टूटता नहीं…

 

Dard Sad Shayari

 

दुआ करते हैं हम सर झुका के आप अपनी मंजिल को पायें…

अगर आपकी राहों मे कभी अंधेरा आए…

तो रोशनी के लिए खुदा हमको जलाए…

 

Dard Bhari Shayari

 

उसके दिल में थोड़ी सी जगह मांगी थी मुसाफिरों की तरह…

उसने तन्हाइयों का एक शहर मेरे नाम कर दिया…

 

कहते हैं प्यार की शुरुआत आँखों से होती है…

पर यारों प्यार की कीमत भी आँखों से ही चुकानी पड़ती है…

 

जरा देखो ये दरवाजे पर दस्तक किसने दी है…

अगर इश्क हो तो कहना यहाँ दिल नही रहता…

 

Dard Bhari Shayari

 

भुला तो देता दोस्तों अगर वो यादों में ना होती…

कमबख्त वो मेरे जिस्म में रूह बनकर समायी हुई है…

 

Dard Bhari Shayari Photo

 

राज जाहिर ना होने दो तो एक बात कहूँ…

मैं धीरे-धीरे तेरे बिन मर जाऊँगा…

 

तेरी ख़ुशी की खातिर मैंने कितने गम छिपाए…

अगर मैं हर बार रोता तो तेरा शहर डूब जाता…

 

Dard Bhari Shayari

 

हर शख्स परिन्दों का हमदर्द नहीं होता दोस्तों…

बहुत बेदर्द बैठे हैं दुनिया मे जाल बिछाने वाले…

 

Shayari on Dard

 

इतनी मुश्किल भरी राह नहीं थी हमारी मोहब्बत की…

कुछ जमाना खिलाफ हुआ तो कुछ बेवफा हो गए…

 

ना लफ्जों का लहू निकलता है ना किताबें बोल पाती हैं…

मेरे दर्द के दो ही गवाह थे और दोनों ही बेजुबां निकले…

 

Dard Bhari Shayari

 

भर जायेंगे जख्म भी तुम जमाने से जिक्र ना करना…

ठीक हूँ मैं तुम मेरे दर्द की फिक्र ना करना…

 

कीमती चीजें अक्सर खो गई मुझसे…

एक बचपन, चंद खत, सपने और एक वो लड़की…

 

Dard Bhari Shayari

 

इश्क लिखना चाहा तो कलम भी टूट गयी…

ये कहकर अगर लिखने से इश्क मिलता तो…

आज इश्क से जुदा होकर कोई टूटता नहीं…

 

Dard Bhari Shayari

 

इश्क बेच रहे थे कुछ लोग बाजार में…

मैंने पूछा… वफा भी साथ मिलेगी क्या…

इतना सुनते ही लोग बुरा मान गए…

 

दर्द भरी शायरी

 

तेरे इश्क का सुरूर था जो खुद को बर्बाद किया…

वरना दुनिया मेरी भी दीवानी थी…

 

मरने को मर भी जाऊँ कोई मसला नहीं…

लेकिन ये तय तो हो कि अभी जी रहा हूँ मैं…

 

Dard Bhari Shayari

 

बड़ी उम्मीद थी उनको अपना बनाने की…

तमन्ना थी उनके हो जानें की…

दिल के हर कोने में उनका ही शोर था…

हम जिसे जान से ज्यादा चाहने लगे…

कमबख्त उनके दिल में ही कोई और था…

 

मालूम था और मालूम है कि कुछ भी हासिल नहीं होगा…

लेकिन वो इश्क ही क्या जिसमें खुद को तड़पाया ना जाये…

 

Gam Bhari Shayari

 

मेरे चुप रहने से नाराज ना हुआ करो…

कहते हैं टूटे हुए लोग हमेशा खमोश हुआ करते है…

 

Dard Bhari Shayari

 

अच्छा हुआ तुमने तोड़ दिया गुस्ताख दिल को…

कमबख्त तुमसे प्यार बहुत करता था…

 

आपको मिल गयी चमकती चाँदनी मुबारक…

मेरे हिस्से तन्हाई में गूंजते सन्नाटे ही ठीक हैं…

 

सबके कर्जे चुका दूँ मरने से पहले अब ऐसी नियत है मेरी…

मौत से पहले जिन्दगी भी बिक गई सिर्फ एक दिल के लिए…

 

Dard Bhari Shayari

 

अभी तक देखी कहाँ है तूने मेरी मोहब्बत की इन्तहाँ…

सदियाँ लग जाती है खुदा को ऐसा दिल बनाने में…

 

Dard Sad Shayari

 

मरकर भी तुझको देखते रहने की हसरत में…

आंखें भी किसी को अमानत में दे जायेंगे हम…

 

कितनी बार बेरहमी से मरे हुए को तुम जलाओगे…

शायद मेरा दिल अभी जला नहीं क्योंकि उसमें तुम जो हो…

 

Dard Bhari Shayari

 

जान से भी जयादा उनको मोहब्बत करते थे…

याद उन्हे हर पल हर दिन किया करते थे…

अब तो उन गलियों से गुजर भी नहीं सकते…

जहाँ बैठकर उनका इंतजार किया करते थे…

 

हमारे आंसूं पोंछ कर वो मुस्कुराते हैं…

उनकी इस अदा से वो दिल को चुराते हैं…

हाथ उनका छू जाये हमारे चेहरे को…

बस इसी उम्मीद में हम खुद को रुलाते हैं…

 

घायल करके मुझे उसने पूछा क्या मोहब्बत करोगे फिर मुझसे…

मेरा दिल तो लहू-लहू था मगर होठों ने कहा हाँ बेइंतहाँ…

 

Dard Bhari Shayari

 

न जाने किस हुनर को शायरी कहते हो आप…

हम तो वो लिखते हैं जो तुमसे कह नहीं पाते…

 

Shayari on Dard

 

फिक्र मत कर जिक्र मत कर और…

ये दुआ सलाम तो रहने दें मोहतरमा…

रंजिश में ही सही पर कम से कम…

तेरी जुबान पे मेरा नाम तो रहने दे…

 

मेरे मरने के बाद हम तुम्हें हर तारे में नजर आया करेंगे…

मन करे तो तुम दुआ माँग लेना हम तुरंत टूट जाया करेंगे…

 

Dard Bhari Shayari

 

ऐ दोस्त जब कभी भी तू बहुत उदास होगा…

मेरा ख्याल तेरे दिल के आस-पास होगा…

दिल की गहराईयों से जब भी याद करोगे…

तुम्हें हमारे करीब होने का एहसास होगा…

 

यादों की भीड़ में आपकी परछाई सी लगती है…

कानों में कोई आवाज़ एक शहनाई सी लगती है…

जब आप करीब हैं तो अपना सा लगता है…

वरना सीने में सांस भी पराई सी लगती है…

 

अगर मिल जाती सबको अपनी मोहब्बत की मंजिल…

तो फिर इन रातों के अंधेरे में शायरी कौन लिखता…

 

Dard Bhari Shayari

 

हमें क्या पता था की जिन्दगी इतनी अनमोल है दोस्तों…

कफन ओढ़ के देखा तो नफरत करने वाले भी रो रहे थे…

 

कोई तो करता होगा हमसे खामोश मोहब्बत…

शायद हम भी तो किसी की अधूरी मोहब्बत रहे होंगे…

 

दर्द भरी शायरी

 

उन्हें बहुत शौक था हमें नजर अंदाज करने का…

हमने भी तोहफे में कफन के साथ उन्हें उनका शौक दे दिया…

 

Dard Bhari Shayari

 

हसीन आँखों को पढ़ने का अभी तक शौक है मुझको…

मोहब्बत में उजड़ कर भी मेरी ये आदत नहीं बदली…

 

तुम भी करके देख लो मोहब्बत किसी से…

खुद जान जाओगे कि हम मुस्कुराना क्यों भूल गए…

 

तेरी मोहब्बत में हम रुसवा हुए इस कदर…

कब्र तक भी जाना पड़ा कफन ओढ़कर…

 

Dard Bhari Shayari

 

तुमसे शिकायत भी है और खूब ज्यादा प्यार भी है…

तेरे आने की उम्मीद भी नहीं और इन्तजार भी है…

 

मैंने पुछा उनसे की क्या रिश्ता है तेरा – मेरा…

उन्होंने मुस्कुरा के कहा…

कि तुम तो मेरा दिल बहलाने के काम आते हो…

 

इसे भी पढ़ें Very Sad Love Status

 

Dard Bhari Shayari Photo

 

तुम थे तो बारिशें भी कितनी सुहानी होती थी…

अब तो आसमान से सिर्फ आंसू ही बरसता है…

 

Dard Bhari Shayari

 

जिन्दगी की राहों में मुस्कराते रहो हमेशा…

उदास दिलों को हमदर्द तो मिलते हैं पर हमसफर नहीं…

 

हमारे बिन अधूरे तुम रहोगे…

कभी चाहा किसी ने खुद तुम कहोगे…

हम ना होंगे तो ये आलम ना होगा…

मिलेंगे बहुत से पर हम सा कोई पागल ना होगा…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

चूमकर कफन में लिपटे मेरे चेहरे को उसने तड़प कर कहा…

नए कपड़े क्या पहन लिए हमें देखना भी जरुरी नहीं समझते…

 

Dard Bhari Shayari

 

मैं अपनी वफा का इंसाफ किस से माँगता…

वो शहर भी तेरा था वो अदालत भी तेरी थी…

 

Gam Bhari Shayari

 

बनके अजनबी मिले है जिंदगी के सफर में…

इन यादों को हम मिटायेंगे नहीं…

अगर याद करना फितरत है आपकी…

तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं…

 

इसे भी पढ़ें WhatsApp Sad Status

 

नीलाम कुछ इस कदर हुए कि बाजार ऐ वफा में हम…

आज बोली लगाने वाले भी वो ही थे…

जो कभी झोली फैलाकर हमको माँगते थे…

 

Dard Bhari Shayari

 

शायरियाँ भी बड़ी खुदगर्ज होती जा रही हैं…

खयाल में कोई भी हो पर लिखी बस तुम जाती हो…

 

एक मैं ही था जो लफ्ज ढूंढते ढूंढते थक गया…

और कोई गैर खरीदे हुए फूल देकर इजहार कर गया…

 

Dard Bhari Shayari

 

जिंदगी के सफर का सिलसिला तो देखो…

जिसे हमने माँगा था दिन रात दुआओं में…

वो बिना मांगे ही किसी और को मिल गया…

 

Dard Bhari Shayari

 

कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते…

हर कदम पर काँच बनकर जख्म देते हैं…

 

Dard Sad Shayari

 

हाथों की लकीरें देख कर ही रो देता है अब तो ये दिल…

इसमें सब कुछ तो है पर एक तेरा नाम ही नहीं…

 

उसके दिल में रहना चाहते थे जिसके दिल में घर ही नहीं था…

और उसके माथे पर शिकस्त तक नहीं आई…

क्योंकि उसे मुझे खोने का डर ही नहीं था…

 

Dard Bhari Shayari

 

मुझसे मोहब्बत पर मशवरा मांगते हैं कुछ लोग…

देख तेरा इश्क ने कुछ इस तरह तजुर्बा दे रखा है मुझे…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

कत्ल कर दो निगाहों से न तकलीफ हो दोनों को…

ना तुम्हें खंजर उठाने की ना हमें गर्दन झुकाने की जरुरत…

मरकर भी तुझको देखते रहने की हसरत में…

आँखें भी हम किसी को अमानत में दे कर जायेंगे…

 

गम भरी शायरी

 

ऐ दिल मत कर इतनी मोहब्बत किसी से…

इश्क में मिला दर्द तू सह नहीं पायेगा…

एक दिन टूटकर बिखर जायेगा अपनों के हाथों से…

किसने तोड़ा दिल ये किसी से कह भी नहीं पायेगा…

 

Dard Bhari Shayari

 

हमें पता था कि उसकी मोहब्बत के जाम में जहर है…

पर उसका पिलाने का अंदाज ही…

इतना प्यारा था कि हम ठुकरा भी न सके…

 

Shayari on Dard

 

आँखे बंद करके तुम्हें महसूस करने के सिवा…

मेरे पास तुमसे मिलने का कोई दूसरा रास्ता नहीं है…

मैं जानता हूँ कि कहानी का आखिरी मंजर क्या होगा…

मैं रोकता रहूंगा और वो चली जायेगी…

 

ऐ खुदा किस्मत भी तुमने बनाई दिल भी तुमने बनाया…

फिर किस्मत में वो क्यों नहीं आया जिसे दिल में बसाया…

 

Dard Bhari Shayari

 

मांगना ही छोड़ दिया हमने वक़्त किसी से…

क्या पता उनके पास इन्कार का भी वक़्त ना हो…

 

मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है…

और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको हमारा ये पैगाम है…

वादा – ऐ – वफा करो तो फिर खुद को फना करो…

वरना खुदा के लिए किसी की जिंदगी ना तबाह करो…

 

ऐसे ही गुजार ली जिन्दगी मैंने कभी खुदा की रजा…

समझ कर तो कभी अपने गुनाहों की सजा समझकर…

 

Dard Bhari Shayari

 

वाह रे इश्क तेरी मासुमियता का कोई जवाब नहीं…

हँसा-हँसा कर करता है बर्बाद तु मासूम लोगों को…

 

खुद को मिटा दिया एक तेरी खुशी की खातिर…

वरना बेफिक्र थे गजब के तेरी आशिकी से पहले…

 

इसे भी पढ़ें Romantic Shayari in Hindi

 

दिल यूँ ना कभी उदास होता…

जो कोई अपना हमारे पास होता…

यूँ तो हमने साथ दिया अक्सर अपनों का…

पर काश किसी को हमारी तन्हाई का एहसास होता…

 

Dard Bhari Shayari

 

कोई नहीं आयेगा मेरी जिदंगी में तुम्हारे सिवा…

एक मौत ही है जिसका मैं वादा नहीं करता…

 

दर्द भरी शायरी

 

वास्ता नही रखना तो फिर मुझ पर नजर क्यूं रखती है…

मैं किस हाल में जिंदा हूँ तू ये सब खबर क्यूं रखती है…

 

मैं जैसा हूँ नहीं वैसा बताया गया है…

मैं पागल था नहीं मुझे किसी ने पागल बनाया है…

 

Dard Bhari Shayari

 

अब रिहा कर दो अपने खयालों से मुझे…

लोग सवाल करने लगे हैं कि कहाँ रहते हो आज कल…

 

तेरे दिए हुए जख्म धीरे धीरे भर जायेंगे…

बस तू जमाने से जिक्र न करना…

बहुत शुक्रिया है तेरा दर्द देने के लिए…

बस तू मेरी फिक्र न करना…

 

प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में

 

मेरे ख्वाबों में आना आपका कसूर था…

आपसे दिल लगाना हमारा कसूर था…

आप आए थे जिन्दगी में पल दो पल के लिए…

आपको जिन्दगी समझ लेना हमारा कसूर था…

 

Dard Bhari Shayari

 

दिल को जला कर दी है हमने तुमको रोशनी…

जुगनू पकड़कर कभी उजाला नहीं किया मैंने…

 

कमी तो बस इतनी है मोहब्बत के फसाने में…

जिससे दिल ढूंढता है वो नहीं मिलता है जमाने में…

यहां सब अपनी अपनी मंजिलों के रास्ते में हैं…

कोई उलझा है किसी को खोने में…

तो कोई खोया है किसी को पाने में…

 

Dard Bhari Shayari Photo

 

क्या लिखूँ और कितना लिखूँ अपने दिल के एहसासों को…

जिंदगी भरी पड़ी है दर्द और कुछ अनकहे अल्फाजों से…

 

Dard Bhari Shayari

 

गजब की दीवानगी है तुम्हारी मोहब्बत में…

तुम हमारे नहीं फिर भी हम तुम्हारे हो गए…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

तलाश कर मेरी कमी को अपने दिल में ऐ हमदम…

दर्द हो तो समझ लेना कि मोहब्बत अब भी बाकी है…

 

Dard Bhari Shayari

 

न जाने कौन सा आँसू मेरा राज खोल दे…

हम इस खयाल से नजरें झुकाए बैठे हैं…

 

मेरे किस्मत की किताब तो खूब लिखी थी खुदा ने…

मुझसे बस वही पन्ना गुम हो गया जिसमें तेरा जिक्र होना था…

 

Dard Bhari Shayari

 

काश वो समझते इस दिल की तड़प को तो यूँ हमें…

रुसवा ना किया होता उनकी ये बेरुखी भी…

मंजूर थी हमें बस एक बार हमें समझ लिया होता…

 

इसे भी पढ़ें Sad Shayari in Hindi

 

आज रास्ते में कुछ प्यार के खत मुझे टुकड़ो में मिले…

शायद फिर किसी गरीब के मोहब्बत का तमाशा हो गया…

 

Dard Bhari Shayari

 

शायद वो वाकिफ था मेरी परेशानियों से…

वरना तोहफे में जहर कौन देता है…

 

उसकी दर्द भरी आँखों ने जिस जगह कहा था अलविदा…

आज भी वही खड़ा है दिल उसके आने के इंतजार में…

 

Dard Bhari Shayari

 

दुनिया बड़ी जालिम है हर बात छिपानी पड़ती है…

दिल में दर्द होता है फिर भी होठों पर हंसी लानी पड़ती है…

 

काश कि उसको हम बचपन में ही मांग लेते क्योंकि…

बचपन में हर चीज मिल जाती थी बस दो आँसू बहाने से…

 

Dard Bhari Shayari

 

वो खुश है पर शायद हम से नहीं…

वो नाराज है पर शायद हम से नहीं…

कौन कहता है उनके दिल में मोहब्बत नहीं…

मोहब्बत तो है पर शायद हम से नहीं…

 

गम भरी शायरी

 

उनकी ना थी खता हम ही कुछ गलत समझ बैठे यारों…

वो हंस कर बात करते थे तो हम इसे मोहब्बत समझ बैठे…

 

Dard Bhari Shayari

 

इश्क ने हमें बेनाम कर दिया…

हर खुशी से हमें अनजान बना दिया…

हमनें तो कभी नहीं चाहा कि हमें भी मोहब्बत हो…

लेकिन तुम्हारी एक नजर ने हमें नीलाम कर दिया…

 

Dard Bhari Shayari

 

तुमने हसीन से हसीन चेहरों को भी उदास किया है…

ऐ इश्क तू अगर इंसान होता तो तेरा पहला कातिल मैं होता…

 

Dard Bhari Shayari

 

इस बहते दर्द को मत रोको…

ये तो सजा है किसी के इन्तजार की…

लोग इन्हे आँसू कहे या दीवानगी…

पर ये तो निशानी है किसी के प्यार की…

 

इसे भी पढ़ें Very Sad Status

 

अभी तो और लिखे जायेंगे मेरे बदनामी के किस्से…

अभी तो एक आखिरी मुलाकात बाकी है…

 

Dard Bhari Shayari

 

मदहोश नजरों में इश्क की चाहत उभर आई है…

मोहब्बत को छुपा लूँ दिल में आँखें तो हरजाई है…

 

यहाँ Click करें → Telegram Channel

 

बिछड़ते वक़्त उन आँखों में थी हमारी गजल…

प्यार भी वो जो किसी को कभी बताई न थी…

 

Dard Bhari Shayari

 

शक तो था कि मोहब्बत में नुकसान होगा…

यकीन तो न था कि सारा हमारा ही होगा…

 

कभी पिघलेंगे पत्थर भी मोहब्बत की तपिश पाकर…

बस यही सोचकर हमने भी पत्थर से दिल लगा लिया…

 

Dard Bhari Shayari

 

मोहब्बत का अश्कों से कुछ तो रिश्ता जरूर है क्योंकि…

तमाम उम्र ना रोने वालों की भी इश्क में आँखें भीग जाती हैं…

 

प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में

 

कब तक वो मेरा होने से इनकार करेगी…

खुद टूटकर वो मुझसे प्यार करेगी…

अपने इश्क की आग में उसे इतना जला दूँगा…

कि इजहार वो मुझसे सरे-बाजार करेगी…

 

Dard Bhari Shayari

 

इश्क फिर से हो जाने की कोशिश में है…

मेरी बर्बादी में कुछ कसर बाकी होगी…

 

इसे भी पढ़ें WhatsApp Love Status

 

मोहब्बत यह नहीं कि तुम तड़पो और उसे…

पता भी न चले मोहब्बत तो यह है कि…

तुम तड़पो तो उसके दिल से आँसू निकले…

 

यारों के बीच याराना सिख गए…

थोड़ा सुर लगाया और तराना सिख गए…

सब कुछ ठीक था अपने जिंदगी में…

गलत तो तब हुआ जब दिल लगाना सिख गए…

 

Friends… आप हमारे Telegram Channel से अवश्य जुड़ें यहाँ हर रोज नये सुविचार और बहुत सारे Shayari और Status Videos आपके लिए उपलब्ध कराया जाता है।

यहाँ Click करें → Telegram Channel

Telegram

 

Dard Bhari Shayari दर्द भरी शायरी Dard Sad Shayari

के इस अच्छे Collection में से अगर आप Shayari के किसी Photo को Download करना चाहते हैं तो बस आपको उस Photo पर Click करना है और तुरंत HD Photo Download हो जायेगा फिर आप उसे आप अपने दोस्तों के साथ Share कर सकते हैं।

Thank You … Friends

Read More Shayari

Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Shayari